वो मोड़ रह गया पीछे, वो हाथ छूट गया मेरे हाथ से
दोष न उसका था न मेरा, तड़प दिल का, उसका थमा न मेरा