गुलाबों की हार में, क्या हो गुलमोहर फूल की कदर
जज़्बातों की जोश में, कौन करें होश की कदर